शुक्रवार, 11 अक्तूबर 2019

क्या है आपके लिए निषेध

--*** क्या है आपके लिए निषेध.***
-----------------------//--------------------
        कारक व अकारक के संबंध में बहुत सी भ्रांतियां व जिज्ञासाएं देखने मे आती रहती हैं..कई पाठकों का प्रश्न होता है कि हमारे लिए क्या कारक है व क्या अकारक है....ऐसे में अपने सुधि पाठकों को आज इस प्रश्न का उत्तर देने का प्रयास करता हूँ....कारक अकारक के कंफ्यूज़न में एक शब्द सदा उपेक्षित हो जाता है,,,और वह है निषेध.... निषेध अर्थात आउट ऑफ बाउंड...आपके समीकरण के विपरीत कोई सिद्धान्त,,नियम,,वस्तु...
          पेट्रोल कितना भी ताकतवर सही,किन्तु डीजल इंजन में निषेध है,,,,,डीजल कितना भी बेहतर सही,,पेट्रोल इंजन में निषेध है....जल से उत्पन्न होकर भी विधुत उपकरणों के लिए जल निषेध है..दूध कितना भी बेहतर सही,,खट्टे के साथ निषेध है....ऐसे में जातक के जीवन मे कई साधन निषेध हैं,,किन्तु हम ज्ञान के अभाव में उन्ही निषेध पदार्थों को अपने जीवन मे उपयोग करते रहते हैं,,व अपने लिए समस्याएं उत्पन करते हैं...
                  अष्टम भाव अंतिम भाव है जीवन का.…नवम प्रथम भाव है,,प्राण है..आठवां अंतिम ग्रह है,,,आठ ग्रह हैं....ग्रहों का प्रमाण आठ है,,,केतु राहु से ही निकला हुआ ग्रह है.…अतः आठवें का रंग मनुष्य के लिए कफन का रंग है.…..इससे परहेज करना बेहतर होता है..अष्ठम मृत्यु के बाद नवम प्रथम जीवन का आभास है,,धर्म है,,मंदिर है,,देवता का स्थान है...बचपन है.....ध्यान दीजिए,,भोजन का सबसे अधिक परहेज बालक के लिए ही होता है...बहुत से भोज्य पदार्थ उसका शरीर पचाने में सक्षम नही होता...दूसरा यह कि मंदिर होने के कारण ये देवताओं को अर्पित होने वाला स्थान है,,यहाँ की हर वस्तु पर देवताओं का अधिकार है...अतः भोज्य पदार्थ के रूप में आपके लिए त्याज्य है.…..नवम में बैठे ग्रह व नवमेश से संबंधित भोजन का परहेज करिये....यहां गुरु विराजमान है तो केले से परहेज कीजिये..चंद्र की राशि है तो रात्रि में दूध से परहेज कीजिये.. आठवें का संबंध मंगल से है तो पहनने के लिए लाल रंग से परहेज कीजिये...,गुरु का संबंध है तो पीले रंग के वस्त्रों से परहेज कीजिये...चंद्र संबंधी है तो सफेद त्याज्य है....इसी प्रकार अन्य ग्रहों का संबंध देखा जाना ,,बहुत सी जटिलताओं को सुलझाने में सहायक होता है....
        आशा है पाठकों तक अपनी बात पहुंचा पाया हूँ...कृपया अपनी अमूल्य राय रखिये....रविवार के अवकाश का आप पूर्ण आनंद लें,,,,इसी दुआ के साथ आप सभी को सादर प्रणाम..

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें