शुक्रवार, 11 अक्तूबर 2019

बुध सबसे महत्वपूर्ण है

--*****संसार को संचालित कर रहा है बुध..**
-----------------/--------------/----------------/-------
       ज्योतिष में सबसे कम विवेचित किये जाने वाला कोई ग्रह है तो वह बुध है...संसार भर के ज्योतिषी राहु शनि व मंगल की पूंछ उमेठने में ही सामान्यतः  लगे रहते हैं....किन्तु मेरी व्यक्तिगत राय में मैं बुध से अधिक पावरफुल इस युग में किसी ग्रह को नही मानता...जातक का बुध मजबूत है तो बहुत सी बाधाओं पर वो सहजता से विजय पा लेता है...
          जन्म में साथ बुध का प्रथम प्रभाव जातक की त्वचा पर होता है,,,,अर्थात स्किन बुध का विभाग है..आप जानते ही हैं कि गोरा(अंग्रेज)पैदा होते ही आप अपने आप श्रेष्ट कहलाये जाने योग्य होते हैं...मेरे जैसे काले इंडियन समाज मे दूसरे स्तर पर गिनती होते हैं...आप अंग्रेज हैं तो आपके मल में से भी खुशबू आती है...मेरे जैसे काले हैं तो आपका इत्र भी बास मारता है....अतः समाज मे श्रेष्ठता का प्रथम सोपान आपकी त्वचा के रंग से तय होता है....द्वितीय पायदान आपके स्नायु तंत्र हैं....विवेकहीन की भला क्या बिसात...हालात को नियंत्रित रखने के लिए आपका स्वयं के स्नायु पर नियंत्रण होना आवश्यक है....बुध का तीसरा अधिकार क्षेत्र आपकी वाणी पर है....भाषा पर आपका नियंत्रण है तो आप गंजे को भी कंघी बेच आते हैं..संसार की प्रत्येक मुश्किल को आप अपने भाषा कौशल से सहज ही निपटाने में सक्षम होते हैं.....शिक्षा में मैथ्स अर्थात गणित का डंका संसार भर में बजता है....यह गणित बुध द्वारा ही नियंत्रित होती है...
              दुनिया को चलाने के लिए अथवा कहें संसार में जीने के लिए अगर आज के युग मे कोई वस्तु प्राणवायु से भी अधिक कीमती हो चली है तो वह पैसा है....बुध पैसे का अधिकारी है....बिना बुध कोई बैंक नही,,कोई फाइनेंस सेक्टर नही,,कोई कम्युनिकेशन नही.....दिशाओं में सर्वाधिक महत्वपूर्ण दिशा उत्तर का अधिकारी बुध ही है..वनस्पतियों में सबसे कीमती तुलसी को बुध का पौधा ही माना गया है..हरी भरी खेती का मालिक ही असली जमींदार है.....हर प्रकार का व्यापार बुध ही तो है...देवताओं में अग्रपूजनीय गणेश जी इसके अधिष्ठात्री देवता हैं....
           आप जानते हैं बुध का धरती पर सबसे बड़ा स्रोत क्या है??..जिसे आप बुध का ट्रांसफार्मर कह सकते हैं....वो बुआ होती है,,,आपके पिता की बहन,,,आपकी फूफू.....विश्वास कीजिये यदि आपका बुआ से मतभेद है तो स्वयं के व्यापार में बरकत की कहानी भूल जाओ भैय्या….ये संभव नही है....बुध का दूसरा जेनरेटर किन्नर होता है...यदि आपके मन मे किन्नरों के लिए सम्मान नही तो बुध आपके सम्मान की धज्जियां कभी भी उड़ा सकता है.....तुलसी का पौधा आपके लिए कल्पवृक्ष के समान है,,इसे घर मे लगाइये व इसका सेवन किसी भी रूप में कीजिये,,,बहुत सी समस्याएं स्वतः ही आपका पीछा छोड़ देंगी....ज्योतिष को समझने के लिए बहुत से वेद पढ़ने की आवश्यकता नही ,,,ज्योतिष आपके चारों तरफ बिखरा पड़ा है...बस समग्र दृष्टि रखिये...देखने से अधिक समझिये..तोते की भांति रटने की बजाय महसूस कीजिये.....समस्त प्रश्नों के उत्तर ब्रह्मांड में बिखरे पड़े हैं...स्वयं खोजिये...…..तो बोलिये बुध महाराज की जय......

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें